meniya

MENIYA
꧁❤ Butterfly Lovers ❤꧂

"माता पिता का हाथ पकड़ कर रखिये जिंदगी में कभीभी लोगो के पाव पकड़नेकी जरूरत नही पड़ेगी "

Coronavirus Lockdown: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा- जरूर डाउनलोड करें 'Aarogya Setu App', ऐसे करें इस्तेमाल Download Amar Ujala App for Breaking News in Hindi & Live Updates.|| Provided NIC eGov Mobile Apps

Coronavirus ,Lockdown: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा- जरूर डाउनलोड करें "Aarogya Setu App", ऐसे करें इस्तेमाल

Provided : NIC eGov Mobile Apps
"Aarogya Setu App"

     
कोरोना वायरस की स्थिति को ध्यान में रखकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लॉकडाउन की अवधि को 3 मई तक बढ़ा दिया है। पीएम मोदी ने राष्ट्र के नाम संबोधन में आरोग्य सेतु मोबाइल एप का जिक्र किया। उन्होंने कहा है कि कोरोना वायरस के फैलाव को रोकने के लिए आरोग्य सेतु मोबाइल एप को जरूर डाउनलोड करें। साथ ही दूसरे लोगों को मोबाइल एप इंस्टॉल करने के लिए प्रेरित करें। बता दें कि आरोग्य सेतु एप को अभी तक 2 करोड़ से अधिक लोगों ने डाउनलोड किया है। तो चलिए जानते हैं कि आरोग्य सेतु मोबाइल एप क्या है और यह कैसे काम करता है...

क्या है आरोग्य सेतु मोबाइल एप
आरोग्य सेतु एप को कोरोना वायरस के संक्रमित को रोकने के लिए उद्देश्य से बनाया गया है। आरोग्य सेतु एप लोगों को बताएगा कि आप किसी कोरोना संक्रमित शख्स के संपर्क में आए हैं या नहीं। इसके अलावा इस एप से आप यह भी पता लगा सकते हैं कि आपको कोरोना संक्रमण का कितना खतरा है।

ऐसे करता है काम 
आरोग्य सेतु एप को हिंदी, अंग्रेजी और मराठी समेत 11 भाषाओं में उपलब्ध है। इस एप में कोरोना वायरस के रोकथाम के भी तरीके बताए गए हैं। इसके अलावा यह एप आपकी लोकेशन और ट्रैवल हिस्ट्री के आधार पर बताएगा कि आपको कोरोना संक्रमण का खतरा है या नहीं।

एप को गूगल प्ले-स्टोर से डाउनलोड करने के बाद नाम और मोबाइल नंबर के साथ रजिस्टर करना होगा। इसके बाद भाषा का चुनाव करना होगा। एप को खोलते ही में एप बताएगा कि आपको कोरोना वायरस से संक्रमण का खतरा है या नहीं।

इस एप में नीचे स्क्रॉल करने पर स्वास्थ्य मंत्रालय का ट्वीट मिलेगा। ट्वीट का अपडेशन रियल टाइम में हो रहा है। डाटा प्राइवेसी को लेकर सरकार ने कहा है कि आरोग्य सेतु एप का डाटा पूरी तरह से एंक्रिप्डेट होगा।

भारत में कोरोना वायरस की स्थिति
भारत में इस समय कोरोना वायरस की वजह से 339 लोगों की मौत हो चुकी हैं और 10363 लोग इससे संक्रमित हैं। वहीं, अभी तक 1035 लोग ठीक हो गए हैं।

Today Trending Artical
❤️ Thanks for Visit ❤️

Post a comment

0 Comments