meniya

MENIYA
꧁❤ Butterfly Lovers ❤꧂

"माता पिता का हाथ पकड़ कर रखिये जिंदगी में कभीभी लोगो के पाव पकड़नेकी जरूरत नही पड़ेगी "

परेशान स्टेटस शायरी - Zindagi Se Pareshan Status in Hindi Shayari Quotes

परेशान स्टेटस शायरी – Zindagi Se Pareshan Status in Hindi Shayari Quotes Caption Poem

मेरी जिंदगी परेशानियों का दूसरा रूप बन गई है
याद भी नहीं, कि खुशियाँ कब आई थी.. और कब गई हैं.
Zindagi Se Pareshan Shayari
रूठा-रूठा फिर रहा हूँ जिंदगी की परेशानियों से परेशान होकर
ना जाने कब खुशियाँ मिलेंगी, ना जाने क्या-क्या खोकर.
सौ कोशिशों के बाद भी असफलता, ना जाने जीवन में क्या होने वाला है
परेशानियों का ये कैसा दौर है, जहाँ शायद खुशियों को कभी नहीं आना है.
उसका झूठा प्यार मेरी जिंदगी में परेशानियों का सैलाब लाया
इस झूठे रिश्ते में सबकुछ खोया मैंने और कुछ भी नहीं पाया.
लाइफ से परेशान – Life Se Pareshan Status in Hindi
अपने हों या पराये सब जख्म दिए जा रहे हैं मुझे
जिंदगी से परेशान होने का सबब दिए जा रहे हैं मुझे.
ऐ जिंदगी अब इतनी भी परेशानियाँ ना दे, कि तुझसे नफरत हो जाये
गुनाह किसी और का भी हो, तो ये दिल तुझ पर हीं इल्जाम लगाए.
ऐसा लगता है कि जिंदगी किसी बात का बदला ले रही है मुझसे
सारे जमाने के हिस्से की परेशानियाँ दे रही है सिर्फ मुझे.
ऐ जिंदगी तेरी परेशानियों को हराकर फिर जीत जाऊंगा मैं
बुरे दौर को खत्म कर फिर अपनी काबिलियत साबित कर जाऊंगा मैं.
परेशान शायरी – Pareshan Shayari in Hindi
लगता है कुछ लोग अपने बनकर जख्म दिए जा रहे हैं
क्योंकि जिंदगी की परेशानियों का का कोई सबब तो होगा.
ऐ जिंदगी रोज सौ इम्तिहान ले, लेकिन मुझे किसी का तो साथ दे
केवल परेशानियों को बढ़ाकर, तू कोई जंग नहीं जीत लेगी.
जिंदगी से परेशान हो गया हूँ, यह मुझे रास नहीं आ रही है
एक आरजू पूरी करने के लिए, सौ दरों पर सिर झुकवा रही है.
जिंदगी से इस कदर परेशान हूँ कि कोई रास्ता हीं नहीं सूझ रहा है
अभी तक तो हौसला था, लेकिन आस का दीपक अब बुझ रहा है.
#परेशान quotes #Sad Status, #Hindi Status,#Love Status,#Problem Solve #Status, #Zindgi Caption
मुझसे नहीं काटती है ये राते,
जो कर देती है ये उदास मुझे।
ना चाहते हुए भी उसकी यादे,
जो कर देती है ये उदास मुझे।
उसे एक बार देखने की वो बाते,
जो कर देती है ये उदास मुझे।
कल सूरज से कहूँगा में वो बाते,
जो कर देती है ये उदास मुझे।
मुझे भी साथ ले कर डूब जाये,
जो फिर न उदास कर दे ये राते।
पूछते हो,
की तुमसे जुदाई के बाद,
अब अश्क़ नही बहाती हूँ मैं?
कभी पूछना मेरे उन काग़ज़ों से
तेरे इश्क़ की स्याही से,
अब वो भी परेशान हो चले है!
Today Trending Artical
❤️ Thanks for Visit ❤️

Post a comment

0 Comments