meniya

MENIYA
꧁❤ Butterfly Lovers ❤꧂

"माता पिता का हाथ पकड़ कर रखिये जिंदगी में कभीभी लोगो के पाव पकड़नेकी जरूरत नही पड़ेगी "

Best ऋग्वेद Quotes, Status, Shayari, Poetry - Great Quotes from Ved in Hindi & Sanskrit Shlokas Sukti

Best ऋग्वेद Quotes, Status, Shayari, Poetry

शानदार वैदिक सूक्ति – Great Quotes from Ved in Hindi & Sanskrit Shlokas Sukti.
ऋग्वेद कोट्स सूक्ति – Rig Veda Quotes in Hindi & Sanskrit Shlokas Sukti
Best ऋग्वेद Quotes, Status, Shayari, Poetry

#Rig Veda Quotes Shlokas Sukti Sanskrit : न स सखा यो न ददाति सख्ये|
In Hindi Meaning : वह मित्र हीं क्या, जो अपने मित्र की सहायता नहीं करता.
#Rig Veda Quotes Shlokas Sukti Sanskrit : शुद्धाः पूता भवत यज्ञियासः|
In Hindi Meaning : शुद्ध और पवित्र बनो तथा परोपकारमय जीवनवाले हो.
#Great Quotes from Vedas Shlokas Sukti Sanskrit : सुगा ऋतस्य पन्थाः||
In Hindi Meaning : सत्य का मार्ग सुख से गमन करने योग्य है, सरल है.
#Rig Veda Quotes Shlokas Sukti Sanskrit : दक्षिणावन्तो अमृतं भजन्ते|
In Hindi Meaning : दानी अमरपद प्राप्त करते हैं.
#Rig Veda Quotes Shlokas Sukti Sanskrit : सरस्वतीं देवयन्तो हवन्ते|
In Hindi Meaning : देव पद के अभिलाषी सरस्वती का आह्वान करते हैं.
#Rig Veda Quotes Shlokas Sukti Sanskrit : उद्बुध्यध्मं समनसः सखायः|
In Hindi Meaning : एक विचार और एक प्रकार के ज्ञान से युक्त मित्रजनों उठो जागो’
#Rig Veda Quotes Shlokas Sukti Sanskrit : यच्छा नः शर्म सप्रथः||
In Hindi Meaning : ‘भगवन् तुम हमें अनंत अखण्डैकरसपरिपूर्ण सुखों को प्रदान करो.
#Rig Veda Quotes Shlokas Sukti Sanskrit : सुम्नमस्मे ते अस्तु|
In Hindi Meaning : हे परमात्मन् हमारे अंदर तुम्हारा कल्याणकारी सुख प्रकट हो.
#Rig Veda Quotes Shlokas Sukti Sanskrit : पुनर्ददताघ्नता जानता सं गमेमहि||
In Hindi Meaning : हम दानशील पुरुष से, विश्वासघात आदि न करने वाले से और विवेक-विचार-ज्ञानवान से सत्संग करते रहें.
#Rig Veda Quotes Shlokas Sukti Sanskrit : भद्रं नो अपि वातय मनो दक्षमतु कर्तुम्|
In Hindi Meaning : हे परमेश्वर, हम सबको कल्याणकारक मन, कल्याणकारक बल और कल्याणकारक कर्म प्रदान करो|’
अर्थववेद कोट्स सूक्ति – Atharva Veda quotes in Hindi & Sanskrit Shlokas Sukti

#Atharva Veda Quotes Shlokas Sukti Sanskrit : स एष एक एकवृदेक एव|
In Hindi Meaning : वह ईश्वर एक और सचमुच एक ही है.
#Atharva Veda Quotes Shlokas Sukti Sanskrit : रमन्तां पुण्या लक्ष्मीर्याः पापीस्ता अनीनशम्||
In Hindi Meaning : पुण्य की कमाई मेरे घर की शोभा बढ़ाए, पाप की कमाई को मैंने नष्ट कर दिया है.
#Atharva Veda Quotes Shlokas Sukti Sanskrit : मा जीवेभ्यः प्र मदः|
In Hindi Meaning : प्राणियों की ओर से बेपरवाह मत हो.
#Atharva Veda Quotes Shlokas Sukti Sanskrit : वयं सर्वेषु यशसः स्याम||
In Hindi Meaning : हम समस्त जीवों में यशस्वी हों.
#Atharva Veda Quotes Shlokas Sukti Sanskrit : अरिष्टाः स्याम तन्वा सुवीराः||
In Hindi Meaning : हम शरीर से नीरोगी हों और उत्तम वीर बनें.
#Atharva Veda Quotes Shlokas Sukti Sanskrit : वाचा वदामि मधुमद्|
In Hindi Meaning : वाणी से माधुर्ययुक्त ही बोलता हूँ.
#Atharva Veda Quotes Shlokas Sukti Sanskrit : मा पुरा जरसो मृथाः ||
In Hindi Meaning : हे मनुष्य, तू बुढ़ापे से पहले मत मर.
#Atharva Veda Quotes Shlokas Sukti Sanskrit : शत्तहस्त समाहर सहस्रहस्त सं किर|
In Hindi Meaning : सैंकड़ों हाथों से इकट्ठा करो और हजारों हाथों से बांटों.
#Atharva Veda Quotes Shlokas Sukti Sanskrit : शिवं मह्यं मधुमधुमदस्त्त्वन्नमं||
In Hindi Meaning : मेरे लिए अन्न कल्याणकारी और स्वादिष्ट हो.
#Atharva Veda Quotes Shlokas Sukti Sanskrit : शिवा नः सन्तु वार्षिकिः||
In Hindi Meaning : हमें वर्षा द्वारा प्राप्त जल सुख दे.
#Atharva Veda Quotes Shlokas Sukti Sanskrit : शतं जीवेम शरदः सर्ववीराः||
In Hindi Meaning : हम स्वभिलषित पुत्र-पौत्रादि से परिपूर्ण होकर सौ वर्ष तक जीवित रहें.
#Atharva Veda Quotes Shlokas Sukti : हमारी शक्तिशालिनी मीठी वाणी कभी भी दुष्ट स्वभाव वाली ना हो.



ऋग्वेद के अनमोल वचन Rig Veda Quotes in Hindi
1. मनुष्यों को चाहिए कि अधर्म का पालन करने वाले और मूर्ख लोगों को राज्य की रक्षा का अधिकार कदापि न दें.


2. किसी एक मनुष्य को स्वतंत्र राज्य का अधिकार कभी न दें परन्तु राज्य के समस्त कार्यों को शिष्ट जन की सभा के अधीन रखें.

3. उनको ही लक्ष्मी की प्राप्ति होती है, जो आलस्य का त्याग करके सदैव सत्कर्म के लिए प्रयासरत रहते हैं.

4. जगत के समस्त जीवों को सुख मिले, मुझे भी सुख मिले.

5. अतिथि को सुन्दर और सुखद आसन देकर प्रसन्न करना चाहिए.

6. मेघ हमें और हमारी प्रजा के लिए सुखकर हों.

7. इस ग्राम (World) के सभी निवासी निरोगी और स्वस्थ हों.

8. समस्त दिशाओं से अच्छाई का प्रवाह मेरी तरफ हो.

9. बिना स्वयं परिश्रम किये देवों की मैत्री नहीं मिलती.

10. दान करनेवाले मनुष्यों का धन क्षीण नहीं होता, दान न देने वाले पुरुष को अपने प्रति दया करनेवाला नहीं मिलता.

11. मनुष्य अपनी परिस्थितियों का निर्माता आप है. जो जैसा सोचता है और करता है, वह वैसा ही बन जाता है.

12. हमारी बुद्धियाँ विविध प्रकार की हैं. मनुष्य के कर्म भी विविध प्रकार के हैं.

13. जो अधर्माचरण से युक्त हिंसक मनुष्य है, उसको धन, राज्यश्री और उत्तम सामर्थ्य प्राप्त नहीं होता. इसलिए सबको न्याय के आचरण से ही धन खोजना चाहिए.

14. हे मानवो! जैसे अग्नि आप शुद्ध हुआ सबको शुद्ध करता है, वैसे संन्यासी लोग स्वयं पवित्र हुये सबको पवित्र करते हैं.

15. जिन अध्यापकों के विद्यार्थी विद्वान, सुशील और धार्मिक होते हैं, वे ही अध्यापक प्रशंसनीय होते हैं.

16. जैसे महौषधि और बाह्य प्राणवायु सबकी सदा पालन करते हैं, उसी प्रकार उत्तम राजा और वैद्यजन समस्त उपद्रव और रोगों से निरंतर रक्षा करते हैं.

17. किसी भी मनुष्य को श्रेष्ठ वृक्ष या वनस्पति को नष्ट नहीं करना चाहिए. किन्तु उनमें जो दोष हो उनक निवारण कर उन्हें उत्तम सिद्ध करना चाहिए.

18. राजपुरुषों को ऐसे मार्ग का निर्माण करना चाहिए जिनसे जाते हुये पथिकों को चोरों का भय न हो और द्रव्य का लाभ भी हो.

19. मनुष्यों को चाहिए कि सब ऋतुओं में सुख कारक, धनधान्य से युक्त, वृक्ष, पुष्प, फल, शुद्ध वायु, जल तथा धार्मिक और धनाढ्य पुरुषों से युक्त गृह बनाकर वहां निवास करे, जिससे आरोग्य से सदा सुख बढे.

.
Today Trending Artical
❤️ Thanks for Visit ❤️

Post a comment

0 Comments