फेसबुक के बाद अब गूगल पर लगा एंड्रॉयड यूजर्स के डाटा चोरी का आरोप

फेसबुक के बाद अब गूगल पर लगा एंड्रॉयड यूजर्स के डाटा चोरी का आरोप


कैम्ब्रिज एनालिटिका द्वारा फेसबुक डाटा लीक का मामला अभी धीरे-धीरे ठंडा हो रहा है और इसी बीच गूगल पर भी एंड्रॉयड यूजर्स के डाटा चोरी करने का आरोप लगा है। गूगल पर आरोप है कि उसने ऑस्ट्रेलिया के 10 मिलियन यूजर्स को चोरी किया है और उनकी गतिविधियों को ट्रैक किया है।
सॉप्टवेयर कंपनी ओरेकल एक अधिकारी ने दावा किया है गूगल हर महीने 1 जीबी के करीब यूजर्स का डाटा इकट्ठा कर रहा है और उस डाटा को विज्ञापनदाताओं के पास पहुंचा रहा है। इस डाटा की मदद एंड्रॉयड मोबाइल यूजर्स के फोन पर तमाम तरह के विज्ञापन दिखाए जा रहे हैं। वहीं ऑस्ट्रेलियाई प्रतिस्पर्धा और उपभोक्ता आयोग ने कहा कि वह इस रिपोर्ट की जांच करेगा।

 
ये तो जरूर करना चाहते होगें
smiley-kiss पैसा कमाना है तो यहां किल्‍क करें smiley-smile
smiley-kiss आप के काम कि जानकारीsmiley-smile
smiley-kiss मनोरंजन करने के लिए यहां किल्‍क करेंsmiley-smile
smiley-kiss आप का अपना चैनल Youtube देखेsmiley-smile

ओरेकल ने गूगल पर आरोप लगाया है कि फोन में सिम कार्ड नहीं होने और लोकेशन ऑफ होने के बाद भी वह यूजर्स की लोकेशन को ट्रैक करता है। इसके अलावा ओरेकल ने यह भी कहा है कि गूगल एंड्रॉयड फोन के आईपी एड्रेस, मोबाइल टावर और वाई-फाई कनेक्शन के जरिए भी यूजर्स की गतिविधियों पर नजर रखता है। कंपनी ने अपने एक प्रजेंटेशन में बताया कि गूगल एंड्रॉयड डिवाइस के बैरोमीटर की मदद से हवा के दवाब के जरिए यूजर्स की लोकेशन को ट्रैक करता है।

देते हुए कहा है कि इसके लिए यूजर्स की इजाजत ली जाती है। गूगल ने बताया कि इसके लिए उसकी अपनी प्राइवेसी पॉलिसी है। गूगल के मुताबिक वह अपने एंड्रॉयड यूजर्स की जिन जानकारियों को इकट्ठा करता है उनमें व्यक्तिगत जानकारी, डिवाइस की जानकारी, लॉग जानकारी और स्थान की जानकारी शामिल होती है।
क्‍या आप ने इस चैनल को Subscribe किया है नही किया है तो बेल आइकोन पर किल्‍क करे।

483total visits,2visits today

Share Post...